Intezaar shayari in hindi: इंतजार शायरी

Intezaar-shayari-in-hindi

आज भी निगाहें उन्हीं राहों पर लगा रखी है

क्या पता कब आपका गुजरना यहां से हो जाए।

 

Aaj bhI nigahen unhi raahon par laga rakhi hai

Kya pata Kab Aapka gujrana yahan se ho Jaye.

Continue reading